गैंगस्टर से नेता बने मुख्तार अंसारी/फेसबुक


Text Size:

चंडीगढ़/बलिया/बाराबंकी (उत्तर प्रदेश): पंजाब के गृह विभाग ने गैंगस्टर से नेता बने मुख्तार अंसारी की हिरासत उत्तर प्रदेश सरकार को आठ अप्रैल तक रूपनगर जेल से लेने के लिए कहा है. वहीं, गाजीपुर से बसपा सांसद अफजाल अंसारी ने रविवार को कहा कि उनके भाई की सुरक्षा अब न्यायपालिका और योगी आदित्यनाथ शासन की जिम्मेदारी है.

मुख्तार अंसारी, उप्र में कई मामलों में वांछित हैं. वह कथित वसूली के मामले में जनवरी 2019 से पंजाब की रूपनगर जिला कारागार में हैं.

उत्तर प्रदेश के अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) को लिखे पत्र में पंजाब के गृह विभाग ने विचाराधीन कैदी अंसारी के स्थानांतरण के लिए उपयुक्त इंतजाम करने को कहा है.

पत्र में कहा गया है कि जिला कारागार रूपनगर में कैदी को आठ अप्रैल को, या इससे पहले उत्तर प्रदेश सरकार को सौंपा जाएगा.

उसमें कहा गया है कि अंसारी को कई बीमारियां भी हैं और रूपनगर जेल से उत्तर प्रदेश की जेल ले जाने का प्रबंध करने के दौरान इसका ध्यान रखा जाना चाहिए.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें