पाक में कोरोना को लेकर मजार बंद करने के कारण श्रद्धालुओं और पुलिस में संघर्ष, 50 घायल

प्रतीकात्मक तस्वीर.

कराची:

पाकिस्तान (Pakistan) के सिंध प्रांत में कोरोना वायरस (Coronavirus in Pak) के कारण बंद हुए एक मजार पर रात के दौरान श्रद्धालुओं और पुलिसकर्मियों (Devotees Clash Between Police At Pakistan shrine) के बीच हुए संघर्ष में करीब 50 लोग जख्मी हो गए, जिनमें पुलिसकर्मी भी शामिल हैं. इस घटना के बाद शुक्रवार सुबह से वहां अर्द्धसैनिक बलों की तैनाती कर दी गई है. प्रांत की सरकार ने कोरोना वायरस महामारी के प्रसार पर रोक लगाने के लिए सभी धर्म स्थलों को बंद करने की घोषणा की है, जिसके बाद शेहवान के लाल शहबाज कलंदर में बृहस्पतिवार की रात को यह घटना हुई.

यह भी पढ़ें

पाकिस्तान ने भारत से व्यापार बहाली का फैसला 24 घंटे में ही पलटा, बताई ये वजह…

वार्षिक उर्स के लिए हजारों की संख्या में श्रद्धालु सरकारी आदेश का उल्लंघन कर शेहवान में जुटे थे और उन्होंने मजार के अंदर प्रवेश करने का प्रयास किया. मजार के एक अधिकारी ने बताया कि प्रसिद्ध सूफी संत लाल शाहबाज कलंदर के 769वें उर्स (पुण्यतिथि) पर श्रद्धालु इकट्ठा हुए थे. ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मियों ने श्रद्धालुओं को वहां से हटाने का प्रयास किया, जिसमें करीब 40 श्रद्धालु और सात पुलिसकर्मी जख्मी हो गए और उन्हें अस्पताल ले जाया गया.

कोरोना पॉजिटिव होने के बावजूद सहयोगियों से मिले पाकिस्‍तान के पीएम इमरान, हर तरफ हो रही आलोचना

जामसोरो के उपायुक्त कैप्टन (सेवानिवृत्त) फरीदुद्दीन मुस्तफा ने कहा, ‘‘अधिकतर श्रद्धालु सिंध के बाहर से आए थे और वे शेहवान के आसपास ठहरे हुए थे और संभवत: उन्हें सरकार के आदेश की जानकारी नहीं थी.”मुस्तफा ने बताया कि संघर्ष के बाद शुक्रवार को अर्द्धसैनिक रेंजरों को लाल शहबाज कलंदर के मजार के आसपास तैनात किया गया है.

Video : पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे पर युवक को पीटने का वीडियो पुलिस को देने पर आरिफ की तारीफ

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Source link

0

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Instagram

This error message is only visible to WordPress admins

Error: No connected account.

Please go to the Instagram Feed settings page to connect an account.