रूसी विदेश मंत्री ने कहा, 'भारतीय टीके के रूस में उत्पादन की संभावना को खारिज नहीं किया जा सकता'

रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लॉवरोव की फाइल फोटो

नई दिल्ली:

रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लॉवरोव (Russian Foreign Minister Sergey Lavrov) ने मंगलवार को कहा कि रूसी पक्ष ने भारतीय कंपनियों के साथ कोविड-19 (Covid-19) रोधी स्पुतनिक v (sputnik v) टीके की 70 करोड़ खुराक के उत्पादन के लिये कई अनुबंध किये हैं . उन्होंने भारतीय टीके का रूस में उत्पादन किये जाने की संभावना का संकेत भी दिया. विदेश मंत्री एस जयशंकर के साथ व्यापक मुद्दों पर वार्ता के बाद रूसी विदेश मंत्री लॉवरोव ने संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में भारत की टीका निर्माण क्षमता की सराहना की और कहा कि रूस कोरोना वायरस महामारी से निपटने वाले टीका के लिये उससे करीबी सहयोग बनाये हुए है. 

यह भी पढ़ें

भारत-रूस के बीच बैठक : चीन के साथ नजदीकी पर रूसी विदेश मंत्री से पूछा गया सवाल तो ये मिला जवाब

उन्होंने कहा कि रूस के प्रत्यक्ष निवेश कोष (आरडीआईएफ) ने कोविड-19 रोधी स्पुतनिक v टीके की 70-75 करोड़ खुराक के उत्पादन के लिये भारतीय कंपनियों के साथ अनुबंध किये हैं. रूसी विदेश मंत्री ने कहा कि यह भारत में निर्माण क्षमता के कारण संभव हो सका है . लॉवरोव ने कहा, ‘‘ मैं रूस में भारतीय टीके के उत्पादन को लेकर आगे सहयोग की स्थिति को अलग नहीं रख रहा हूं . मैं समझता हूं कि विशेषज्ञ इस बारे में चर्चा करेंगे और ऐसे सहयोग की क्षमता का मूल्यांकन करेंगे . ”

अमेरिका को यह समझने की जरूरत है कि भारत के रूस के साथ पुराने संबंध हैं : US एडमिरल 

रूसी विदेश मंत्री ने भारतीय टीके कोवैक्सीन के भविष्य में रूस में निर्माण की संभावना के बारे में एक सवाल के जवाब में यह टिप्पणी की . वहीं, विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा कि कोविड के चुनौतीपूर्ण समय में फार्मा क्षेत्र में भारत और रूस का सहयोग और महत्वपूर्ण हो गया है . रूसी टीके का भारत में उत्पादन को लेकर चर्चा जारी है . स्पुतनिक v टीके के संदर्भ में उन्होंने कहा कि हमारी चर्चा हुई है और स्पष्ट है कि इस बारे में हमारे नियामक प्राधिकार को फैसला करना है . जयशंकर ने कहा कि भारत ने अभी तक 3-4 देशों को कोवैक्सीन टीके की आपूर्ति की है . गौरतलब है कि भारत यात्रा के बाद रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लॉवरोव दो दिवसीय यात्रा पर मंगलवार को पाकिस्तान पहुंचेंगे .

Video : अफवाह बनाम हकीकत: भारत का रुख कब करेंगी अंतरराष्ट्रीय वैक्सीन कंपनियां? जानिए…

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Source link

0

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Instagram

This error message is only visible to WordPress admins

Error: No connected account.

Please go to the Instagram Feed settings page to connect an account.