गैंगस्टर से नेता बने मुख्तार अंसारी/फेसबुक


Text Size:

बांदा (उप्र) : करीब दो साल पंजाब की जेल में बिताने के बाद बहुजन समाज पार्टी के विधायक और गैंगस्टर मुख्तार अंसारी को उत्तर प्रदेश पुलिस ने बुधवार तड़के कड़ी सुरक्षा के बीच बुंदेलखंड की बांदा जेल में स्थानांतरित किया. भाई अफजल अंसारी ने मुख्तार की सुरक्षा को लेकर तमाम आशंकाएं जाहिर की हैं. इसको लेकर कोर्ट में याचिका दायर की है.

मुख्तार अंसारी के भाई अफजल अंसारी ने कहा कि उन्हें बांदा जेल में लाने की मंशा ठीक नहीं लगती. उन्हें चाय में एक बार जहर दिया जा चुका है. हमें न्यायालय पर पूरा भरोसा है. हमने उन्हें मेडिकल सुविधा उपलब्ध कराने के लिए याचिका दायर की है.

उत्तर प्रदेश पुलिस मंगलवार को पंजाब के रूपनगर से बीजेपी विधायक मुख्तार अंसारी को हिरासत में लेकर बांदा जेल पहुंंची. सुप्रीम कोर्ट ने 26 मार्च को ट्रायल के लिए पंजाब से यूपी की जेल में ट्रांसफर का आदेश दिया था.

इस बीच, लखनऊ में एमपी एमएलए (सांसद-विधायक) की विशेष अदालत ने 12 अप्रैल को अभियुक्त मुख्तार अंसारी को साल 2000 में कारापाल और उप कारापाल पर हमला करने, जेल में पथराव करने तथा जानमाल की धमकी देने के मामले में आरोप तय करने के लिए व्यक्तिगत रूप से तलब किया है.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें