पश्चिम बंगाल की बात करें तो राज्य में आज तीसरे चरण में 31 सीटों पर वोटिंग हो रही है. चुनाव आयोग ने बंगाल में 8 चरणों में चुनाव कराने का फैसला किया है. तीसरे चरण में 78.5 लाख से अधिक पंजीकृत मतदाता हैं, जिन्हें 205 उम्मीदवारों की राजनीतिक तकदीर का फैसला करना है. उनमें BJP नेता स्वप्न दासगुप्ता, तृणमूल कांग्रेस (TMC) के मंत्री आशिमा पात्रा, माकपा नेता कांति गांगुली प्रमुख नेता हैं.

बंगाल चुनाव में BJP और ममता बनर्जी के बीच ‘सिंडिकेट’ को लेकर छिड़ी जुबानी जंग

निर्वाचन आयोग ने पश्चिम बंगाल में मंगलवार को चुनाव वाले सभी 31 विधानसभा क्षेत्रों को ‘संवेदनशील’ बताते हुए सीआरपीसी की धारा 144 के तहत सोमवार को निषेधाज्ञा लागू कर दी थी. एक अधिकारी ने इस बारे में बताया. निषेधाज्ञा लागू होने के बाद तीन जिलों के निर्वाचन क्षेत्रों में मंगलवार को लोगों के जमावड़े पर प्रतिबंध होगा, जहां तीसरे चरण का मतदान होना है.

असम चुनाव : पोलिंग बूथ में दर्ज थे केवल 90 मतदाता, वोट डल गए 181, छह पोलिंग अफसर सस्‍पेंड

अधिकारी ने बताया, ‘‘दक्षिण 24 परगना (भाग दो) में सभी 16 विधानसभा क्षेत्रों, हावड़ा (भाग-एक) में सात सीटों और हुगली (भाग-एक) में आठ सीटों के लिए सीआरपीसी की धारा 144 लागू करने का फैसला किया गया है, जहां मंगलवार को मतदान होना है.”

तमिलनाडु विधानसभा चुनाव 2021 से पहले 428 करोड़ रुपये की नकदी, सोना-चांदी ज़ब्त

राज्य के 31 विधानसभा क्षेत्रों में 10,871 मतदान केंद्रों पर सुबह सात बजे से शाम साढ़े छह बजे तक मतदान होगा. तीनों जिले में कुल 78,52,425 मतदाता हैं और मंगलवार को मतदान में 205 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) आज पश्चिम बंगाल के कूचबिहार और डोमजुर में चुनावी रैलियां भी करेंगे.

केरल में चुनावी सभा में बोले राहुल गांधी, ‘हमारी पार्टी के पास है आर्थिक संकट दूर करने का समाधान’

मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) नितिन खाडे ने सोमवार को बताया कि असम की 126 सदस्यीय विधानसभा के चुनाव की घोषणा के बाद से आदर्श आचार संहिता (एमसीसी) उल्लंघन के कुल 2,813 मामले सामने आए हैं. खाडे ने बताया कि सी विजिल ऐप के माध्यम से कम से कम 1,347 शिकायतें ऑनलाइन प्राप्त हुईं और 1466 शिकायतें फॉर्म बी9 के जरिए ऑफलाइन की गईं. उन्होंने बताया कि ऑनलाइन मिली शिकायतों में से 947 का निपटान पहले ही किया जा चुका है.

DMK चीफ MK स्टालिन के दामाद के खिलाफ पूरे दिन चली थी IT रेड, मिले महज 1.36 लाख

बताते चलें कि तमिलनाडु के हालिया चुनाव इतिहास में ऐसा पहली बार होगा, जब अन्नाद्रमुक की नेता जे जयाललिता और द्रमुक के एम करुणनिधि नहीं होंगे. वहीं, मुख्यमंत्री पलानीस्वामी तीसरी बार अपने गृह जिले सेलम जिले के इडापड्डी सीट से जीत दर्ज करने का प्रयास करेंगे. तमिलनाडु में पुरुषों के मुकाबले महिला मतदाताओं की संख्या अधिक है. राज्य में कुल 6.28 करोड़ मतदाता है, जिनमें 3,19,39,112 महिलाएं, 3,09,23,651 पुरुष और 7,192 ट्रांसजेंडर मतदाता हैं. आज वे कुल 3,998 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे.

VIDEO: ममता बनर्जी के समर्थन में महिलाएं, बोलीं- ममता दीदी ही चुनाव जीतेंगी



Source link

0

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Instagram

This error message is only visible to WordPress admins

Error: No connected account.

Please go to the Instagram Feed settings page to connect an account.